छत्तीसगढ़: टमाटर फैला सड़क जाम

Wednesday, December 7, 2016

A A

विरोध प्रदर्शन

जशपुर | समाचार डेस्क: पत्थलगांव में सड़कों पर टमाटर फैला जाम किया गया. छत्तीसगढ़ के पत्थलगांव में किसानों ने टमाटरों के दाम नहीं मिलने का विरोध सड़कों पर टनों टमाटर फैलाकर किया. गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के जशपुर से लेकर पत्थलगांव में टमाटर की खेती सबसे ज्यादा होती है. यहां के बाजारों से तथा किसानों से झारखंड तथा ओडिशा के व्यापारी भी आकर टमाटर खरीदते हैं. इन टमाटरों के उत्पादन लागत को छोड़िये इन्हें अब घाटा सहकर 50 पैसे प्रति किलो की दर पर बेचने के लिये किसान मजबूर हैं.

बस्तर: किसान 5 रु. में धान बेचने तैयार

कालेधन के बजाये किसान परेशान

शराब बिक्री में नोटबंदी का असर न पड़े

इस बार टमाटर का उत्पादन अच्छा हुआ है जिससे किसान उम्मीद लगाये बैठे थे कि उन्हें मुनाफा कमाने का मौका मिलेगा. लेकिन उनकी उम्मीदों पर नोटबंदी ने पानी फेर दिया है. अब नगदी की समस्या से जूझ रहा बाजार किसी तरह की खरीददारी करने के लिये तैयार नहीं है. न तो आसपास और न ही झारखंड तथा ओडिशा के व्यापारी टमाटर लेने आ रहें हैं.

नोटबंदी से संबंधित कुछ तथ्य

बाजार में 500 और 1000 के नोटों की कमी के चलते पहले जो 30 किलो का टमाटर का कैरेट 700 रुपये में बिकता था अब वह 70 रुपये से 120 रुपये में बिक रहा है. ऐसे में टमाटर के उत्पादक अपनी लागत का मूल्य तक निकाल पाने की स्थिति में नहीं हैं.

छत्तीसगढ़ का जशपुर जिला टमाटर के उत्पादन के लिये जाना जाता है. यहां के पत्थलगांव, लुंड़ेग, बागबहार, चिकनीमानी, झिमकी तथा सरईटोला में टमाटर की मंडी लगती है. जहां से छत्तीसगढ़ के अलावा झारखंड तथा ओडिशा तक से व्यापारी आकर टमाटर खरीदते हैं.

टमाटर के दाम गिरते देखकर किसानों ने बुधवार को पत्थलगांव के इंदिरा चौक पर टमाटर फैलाकर नेशनल हाइवे नंबर 43 को जाम कर दिया. बाद में अधिकारियों ने पहुंचकर उन्हें समझाया तथा सड़क जाम खुलवाया.

Tags: , , , , , ,