मतदान से पहले होंगे मॉक पोल

Tuesday, September 17, 2013

A A

लोकसभा चुनाव

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र निर्वाचन आयोग ने चुनाव से पहे प्रत्येक मतदान के‹द्र में मॉक पोल (बनावटी मतदान) करवाने का निर्णय लिया है.

इस मॉक पोल में मतदान प्रारंभ होने के 75 मिनट पूर्व मतदान दल मतदान के‹द्र पहुंचेंगे और अभ्यर्थियों के पोलिंग एजे‹ट की उपस्थिति में मॉक पोल करके दिखाएंगे. यदि पोलिंग एजे‹ट उपस्थित नहीं रहते हैं तब भी मॉक पोल होगा. मतदान दलों को प्रशिक्षत करने के लिए रायपुर के कलेक्टोरेट परिसर स्थित रेडक्रास सभाकक्ष में मास्टर्स ट्रेनरों को प्रशिक्ष‡ण दिया गया है.

प्रशिक्ष‡ण में जानकारी दी गई कि मतदान के दौरान ईवीएम में यदि कोई खराबी आती है तो पीठासीन अधिकारी इसकी जानकारी तुरंत जोनल अधिकारी को देंगे. दूसरी ईवीएम मिलने पर पुन: मॉक पोल करके दिखाना होगा.

इसमें तय हुआ कि मॉक पोल के समय निर्वाचन लडऩे वाले जितने उम्मीदवारों होंगे उन सभी उम्मीद्वारों के वोट डाल कर देखना होगा, जिससे अभ्यर्थियों के पोलिंग एजे‹ट को भी संतुष्टि हो जाए कि सभी बटन काम कर रहे हैं. पीठासीन अधिकारी को मॉक पोलिंग के संबंध में जोनल अधिकारियो को सर्टिफिकेट देना होगा. इस सर्टिफिकेट में मॉक पोलिंग के दौरान उपस्थित अभ्यर्थियों के पोलिंग एजे‹ट भी हस्ताक्षर करेंगे.

मतदान के समय पीठासीन अधिकारी निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित ƒघोषणाएं करेंगे. साथ ही मतदान के दौरान बीच-बीच में मतदान कक्ष के बाहर मतदाताओं का भी अवलोकन करेंगे. पीठासीन अधिकारियों को मतदान के हर ƒघंटे में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन का टोटल बटन को दबाकर कुल मतदान की जानकारी भी लेनी होगी.

प्रशिक्ष‡ण में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों को तैयार करना, सील करना, मतदान के‹द्रों की व्यवस्था, मतप˜त्र लेखा एवं विभिन्न प्रप˜त्रों, चेकलिस्ट, मतदाता सूची के संबंध में मूलसूची, विलोपन सूची संशोधन और परिवर्धन सूची आदि की जानकारी दी गई.

प्रशिक्ष‡ण में मास्टर्स ट्रेनरों को मतदान से जुडे सभी अधिकारी कर्मचारियों के लिए पोस्टल बैलेट, सेना में पदस्थ अधिकरियों एवं कर्मचारियों के लिए प्रॉक्सी वोट और टे‡डर वोट के संबंध में जानकारी दी गई.

Tags: , , ,