छत्तीसगढ़: बिजली से ठेका मजदूर की मौत

Wednesday, September 30, 2015

A A

मौत

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले में पोल में सुधार कार्य के दौरान बिजली से एक ठेका मजदूर की मौत हो गई. घटना सोमवार के शाम की है. बिजली के नंगे तार से चिपकने के कारण मरने वाले विद्युतकर्मी का नाम रामप्रसाद रात्रे है.

मिली जानकारी के अनुसार सोमवार शाम को नवागढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत रामप्रसाद रात्रे पोल पर चढ़कर बिजली सुधार रहा था. उसी समय बिजली के नंगे तार में हाथ लग जाने के कारण वह तार से चिपक गया. कायदे से बिजली के पोल पर चढ़ने से पहले वहां की बिजली बंद कर दी जाती है.

मौके पर पहुंची पुलिस ने रात को लाश न उतारने का फैसला किया. रामप्रसाद रात्रे की लाश को मंगलवार को नीचे उतारा गया. उससे पहले उसका शव 14 घंटे तक खंबे से लटकता रहा. पुलिस ने रामप्रसाद रात्रे के परिजनों को खबर कर दी थी.

जब रामप्रसाद रात्रे का शव नीचे उतारा गया तो क्रुद्ध गांववालों ने विभाग से ढ़ाई लाख रुपये मृतक के परिजनों को मुआवजा देने की मांग. गांव वाले ने तब तक पुलिस को लाश छूने नहीं दिये जब तक बिजली विभाग के लोग वहां पहुंचकर मुआवजा देने के लिये तैयार हुये. हालांकि, अंत में मुआवजा राशि कम करने पर सहमति बन गई.

उल्लेखनीय है कि आजकल बिजली विभाग सुधार का कार्य ठेके पर दे देता है. ठेकेदार ठेके पर मजदूर रखकर काम करवाता है. ठेका मजदूरों को न तो आवश्यक प्रशिक्षण दिया जाता है और न ही सुरक्षा के उपायों का पूरी तरह से पालन किया जाता है.

पुलिस ने मर्ग कायम कर रामप्रसाद रात्रे के शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है.

Tags: , , ,