छत्तीसगढ़: आउटसोर्सिंग पर घमासान

Tuesday, October 13, 2015

A A

भूपेश बघेल छत्तीसगढ़

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कहा आउटसोर्सिंग आरक्षण के नियमों के खिलाफ है. उन्होंने कहा कि जबतक शिक्षा विभाग 100 फीसदी पदों पर भर्ती में स्तानीय युवकों को नहीं लिया जाता है तबतक कांग्रेस इसका विरोध करती रहेगी. उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के अमित जोगी ने एक दिन पहले ही आउटसोर्सिंग पर चर्चा के लिये छत्तीसगढञ विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है.

भूपेश बघेल ने आरोप लगाया कि सरकार यह झूठा प्रचार कर रही है कि नौकरी के लिए योग्य उम्मीदवार नहीं मिल रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार स्वास्थ्य और शिक्षा को ठेके पर देने की साजिश रच रही है.

भूपेश बघेल ने आरोप लगाया कि कमिशनखोरी के लिए आउटसोर्सिंग का सहारा लिया जा रहा है. ऐसा करके छत्तीसगढ़ के बेरोजगारों का हक छीना जा रहा है. उन्होंने कहा कि प्लेसमेंट नहीं होना चाहिए, ठेका नहीं होना चाहिये. छत्तीसगढ़ में शिक्षकों की भर्ती पहले की तरह होनी चाहिये.

उधर, भाजपा के प्रदेश महामंत्री शिवरतन शर्मा ने भूपेश बघेल पर पलटवार करते हुये कहा कि भूपेश बघेल लाचारी में आउटसोर्सिंग का विरोध कर रहें हैं. उनका इशारा इस ओर था कि इसे अमित जोगी ने शुरु किया है.

शिवरतन शर्मा ने कहा कि सरकार बस्तर और सरगुजा में शिक्षा व चिकित्सा क्षेत्र की आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिए आउटसोर्सिग का रास्ता अपना रही है. उन्होंने आरोप लगाया कि पार्टी में वर्चस्व की लड़ाई के कारण भूपेश आउटसोर्सिंग का विरोध कर रहें हैं.

Tags: , , , , ,