पराजय की समीक्षा हो: जोगी

Wednesday, June 11, 2014

A A

अजीत जोगी छत्तीसगढ़

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के पराजय की समीक्षा होनी चाहिये. अजीत जोगी ने कहा कि 16 मई को लोकसभा चुनाव का रिजल्ट आने के तीन सप्ताह बाद भी छत्तीसगढ़ में समीक्षा नहीं हुई है. जोगी ने कहा कि कार्यकर्ताओं में निराशा है और संगठन में परिवर्तन होगा तो निराशा दूर हो जाएगी, जो विलंब हो रहा है वह विलंब नहीं होना चाहिए ऐसी कार्यकर्ताओं की इच्छा है.

उन्होंने पर्चे मामले में सार्वजनिक टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि वे पार्टी फोरम में अपनी बात रखेंगे. जोगी मंगलवार की शाम दिल्ली से राजधानी लौटे. रायपुर आते ही वे निजी कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए बिलासपुर रवाना हो गए. जाने से पहले मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली में उन्होंने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि पार्टी संगठन में परिवर्तन होगा.

इसके अलावा अजीत जोगी ने एक बार फिर प्रदेश कांग्रेस संगठन में बदलाव का राग अलापा है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कार्यकर्ता चुनाव के बाद से निराश हैं और कार्यकर्ता में ऊर्जा भरने के लिए संगठन में परिवर्तन होना चाहिए. जोगी का कहना है कि संगठन में परिवर्तन का अधिकार हाईकमान के पास है.

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली करारी हार के बाद प्रदेश संगठन में बदलाव की चर्चा जोरों पर है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल विरोधी सक्रिय हैं. इस बीच जोगी के बयान से प्रदेश कांग्रेस में नया विवाद पैदा हो सकता है.

जोगी ने मुख्यमंत्री रमन सिंह के खिलाफ कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल और शिक्षा मंत्री प्रेमप्रकाश पांडे की कथित मुहिम के संबंध में कहा कि यह दूसरी पार्टी का मामला है, इस संबंध में वे ज्यादा टिप्पणी नहीं करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि इसकी सुगबुगाहट तो थी लेकिन इसका कांग्रेस पार्टी कितना फायदा उठा पाती है, यह देखना होगा.

Tags: , , , , , ,