छत्तीसगढ़ में आसाराम का काला धन

Saturday, September 12, 2015

A A

आसाराम बापू

रायपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ के बाजारों में विवादस्पद आसाराम का एक हजार करोड़ रुपया लगा हुआ है. जिसकी जांच आयकर विभाग कर रहा है. इसके अलावा आसाराम के रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग, रायगढ़ तथा राजनांदगांव के आश्रमों में चढ़ावे को रूप में जो दान की भारी भरकम राशि आती थी उसे भी ब्याज पर लगा देने की खबर है. उल्लेखनीय है कि इस समय आसाराम जेल में बंद हैं. आसाराम सितंबर 2013 से ही जेल में बंद हैं.

आयकर विभाग ने आसाराम के आश्रमों से जो दस्तावेज जब्त किये हैं उनके अनुसार छत्तीसगढ़ में आसाराम का हजारों करोड़ रुपये जमीन तथा रियल स्टेट के कारोबार में लगा हुआ है.

बताया जा रहा है कि आसाराम के आश्रम से जुड़े बड़े कारोबारियों ने करोड़ों के धन का इस्तेमाल किया है और उसे अपने प्रोजेक्ट में लोन के रूप में दिखाया है. अब इसकी जांच की जा रही है कि इस राशि पर टैक्स जमा किया गया है या नहीं. आयकर अधिकारियों ने बताया कि प्रारंभिक जांच में संदेह की श्रेणी में एक दर्जन कारोबारी आये हैं, इनके खातों की जांच चल रही है.

मिली जानकारी के अनुसार आसाराम का काला धन छत्तीसगढ़ के शापिंग माल तथा एजुकेशन सेंटर में भी लगाया गया है. जिसकी जांच आयकर विभाग कर रही है.

आसाराम को मध्य प्रदेश के इंदौर में उनके आश्रम से गिरफ्तार किया गया था और उन्हें एक सितंबर, 2013 को जोधपुर लाया गया था. वह दो सितंबर, 2013 से जोधपुर केंद्रीय कारावास में बंद हैं.

आसाराम पर 16 साल की एक किशोरी ने जोधपुर के नजदीक एक आश्रम में उसके साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था और इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी.

Tags: , , , , ,