‘छल की बात’: आप

Monday, April 20, 2015

A A

आप का चुनाव चिन्ह

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ की राजधानी पहुंचे ‘आप’ के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी को अब ‘मन की बात’ कहना बंद कर देना चाहिए. उन्होंने आरोप लगाया कि उनकी बातें अब ‘छल की बात’ लगने लगी हैं. आप नेता ने कहा कि खनन क्षेत्र और सरकारी दफ्तरों में भ्रष्टाचार प्रदेश की सबसे बड़ी समस्या है. उद्योगपतियों की मदद और गरीब आदिवासियों के शोषण के मामले में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह बिल्कुल मोदी की राह पर चल रहे हैं. मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री रहते जैसा जो कुछ किया, वही सब छत्तीसगढ़ में भी चल रहा है.

उन्होंने कहा कि धान बोनस और एमएसपी मामले में किसानों के साथ विश्वासघात, भूमि अधिग्रहण, संविदा नियुक्ति और रिटायरमेंट की उम्र 62 करके युवा पीढ़ी के साथ छल किया जा रहा है. बिजली उत्पादन में ‘सरप्लस स्टेट’ होने के बावजूद यहीं बिजली महंगी है.

आप नेता ने कहा, “हम इससे सस्ती बिजली दिल्ली में दे रहे हैं.”

संजय सिंह ने कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा कि एक ओर भाजपा शासित राज्यों में जहां किसानों को प्राकृतिक आपदा से हुए नुकसान का मुआवजा 60-70 रुपये देकर हंसी उड़ाई गई, वहीं दिल्ली के किसानों के लिए 50 हजार रुपये प्रति हेक्टेयर और 20 हजार रुपये प्रति एकड़ मुआवजा दिया गया है.

उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी में भ्रष्टाचार के मामलों की एसीबी से जांच और 5500 बसों में सुरक्षा गार्ड की नियुक्ति जैसे कदम उठाए हैं.

आप नेता ने कार्यकर्ताओं से कहा कि छत्तीसगढ़ में ‘हर बूथ पर एक यूथ’ नियुक्त करने का काम एक माह के भीतर किया जाएगा. उन्होंने कहा, “10 सूत्री उद्देश्य बनाकर पूरे प्रदेश में जनजागरण अभियान चलाएंगे.”

संजय सिंह ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार के भूमि अधिग्रहण विधेयक के खिलाफ 22 अप्रैल को दिल्ली में बड़ी रैली होगी, जिसमें राजग सरकार की ‘बदनीयती’ का खुलासा किया जाएगा. यहां भी स्थानीय मुद्दों को लेकर प्रदेश सरकार की नीतियों के खिलाफ आंदोलन होंगे.

आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा, “आंदोलन करना और पार्टी चलाना, सिद्धांत की बातें करना और उसे व्यावहारिक रूप में उतारना, दोनों अलग-अलग चीजें हैं. इसे समझना होगा. पार्टी को फिर से मजबूत कर दो बड़ी पार्टियों को शिकस्त देना सिर्फ अरविंद केजरीवाल के बूते की बात है. दिल्ली चुनाव में उन्होंने यह करके पूरी दुनिया को चौंका दिया.

पार्टी के असंतुष्ट नेता प्रशांत भूषण, शांति भूषण और योगेंद्र यादव के बारे में उन्होंने कहा, “इन लोगों ने पार्टी को मजाक में ले लिया था. इसका सबसे बड़ा सबूत यह है कि दिल्ली चुनाव के दौरान उन्होंने अरविंद केजरीवाल को तीसरे नंबर का नेता कहना शुरू कर दिया था.”

कार्यकर्ता सम्मेलन के बाद प्रेसवार्ता में सिंह ने कहा कि अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में पूरी पार्टी एकजुट है. कुछ लोगों के असंतुष्ट होने से पार्टी पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा. वैसे भी उन्हें संतुष्ट करने के हर संभव उपाय किए गए थे.

एक सवाल के जवाब में उन्होंने बताया कि तीनों नेताओं ने दिल्ली चुनाव के दौरान ही पार्टी को नुकसान पहुंचाना शुरू कर दिया था. यहां तक बयान दिया कि आप को 23-30 सीटें मिल जाएंगी तो बहुत है, लेकिन आप ने 67 सीटों पर ऐतिहासिक जीत हासिल की.

संजय सिंह ने कहा कि दिल्ली में बड़ी जीत के बाद पार्टी स्तर पर छिड़ी लड़ाई, स्टिंग और मीडिया में लगातार हुए खुलासों के बीच भी पार्टी और उसके राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल की छवि को कोई धक्का नहीं पहुंचा है.

उन्होंने कहा, “धक्का तब पहुंचता, जब हम वादा करके भूल जाते. सरकार बनने के बाद हमने अपने घोषणापत्र में जो वादे किए थे, उनको पूरा करना शुरू कर दिया है. बिजली सस्ती कर दी है, 20 लीटर तक पानी मुफ्त कर दिया है.”

संजय सिंह आप के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता के साथ शनिवार को रायपुर पहुंचे.

Tags: , , , , ,