छत्तीसगढ़: 102 थानों में नक्सल भत्ता

Tuesday, July 7, 2015

A A

छत्तीसगढ़ पुलिस

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के 102 थानों में कार्यरत पुलिस को बढ़ा हुआ नक्सल भत्ता तता पैकेज मिलेगा. इनमें से 93 थाना बस्तर में तथा 9 थाना राजनांदगांव जिले में स्थित हैं. गौरतलब है कि 30 जून को छत्तीसगढ़ सरकार ने निर्णय लिया था कि नक्सल क्षेत्रों में तैनात पुलिस का भत्ता तथा अन्य सुविधायें बढ़ायें जायेंगे. इसके तहत अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में 50, संवेदनशील क्षेत्रों में 35 और सामान्य नक्सल क्षेत्रों में कार्यरत पुलिस बल को मिलेगा 15 फीसदी नक्सल क्षेत्र भत्ता मिलेगा. यह भत्ता 1 जुलाई 2015 से दिया जायेगा.

इनमें अतिसंवेदनशील क्षेत्रों के 46, संवेदनशील क्षेत्रों के 43 एवं सामान्य नक्सल प्रभावित इलाकों के 13 थाने शामिल हैं.

अतिसंवेदनशील थानों में सुकमा जिले के 13 थाने पोलमपल्ली, एर्राबोर, कोंटा, मरईगुड़ा, गादीरास, दोरनापाल, पुष्पाल, फुलबागड़ी, चिंतागुफा, जगरगुंडा, भेज्जी, किस्टाराम और गोलापल्ली, बीजापुर जिले के 15 थाने गंगालूर, मिरतुर, फरसेगढ़, बेदरे, उसूर, भोपालपटनम, बासागुड़ा, तोयनार, आवापल्ली, मोदकापाल, मांद्देड़, कुटरू, पामेड़, भद्रकाली एवं तारलागुड़ी, नारायणपुर जिले के छह थाने छोटे डोंगर, धौड़ई, कुरूशनार, धनोरा, झाराघाटी तथा ओरछा, दंतेवाड़ा जिले के पांच थाने कुआंकोंडा, कटे कल्याण, भांसी, बारसुर और अरनपुर, कोंडागांव जिले के दो थाने बयानार और मरदापाल एवं कांकेर जिले के पांच थाने कोयलीबेड़ा, बांदे, परतापुर, गोंडाहुर और आमाबेड़ा शामिल हैं. इन सभी थानों में तैनात पुलिस बल को मूल वेतन का 50 प्रतिशत नक्सल क्षेत्र भत्ता मिलेगा.

संवेदनशील क्षेत्रों के अंतर्गत सुकमा जिले के तीन थाने तोंगपाल, कुकनार और सुकमा, बीजापुर जिले के चार थाने जांगला, नेलसनार, भैरमगढ़ एवं बीजापुर, दंतेवाड़ा जिले के पांच थाने गीदम, बचेली, किरंदुल, फरसपाल तथा दंतेवाड़ा, बस्तर जिले के छह थाने कोड़ेनार, बड़ांजी, लोहंडीगुड़ा, बुरगुम, दरभा और मरदुम, कोंडागांव जिले के चार थाने विश्रामपुरी, धनोरा, बड़े डोंगर एवं एरागांव, कांकेर जिले के 12 थाने कोरर, भानुप्रतापपुर, पखांजूर, अंतागढ़, दुर्गकोंदल, बड़गांव, लोहत्तर, कोड़ेकुरसे, सिकसोड़, कच्चे, तड़ोकी तथा रावघाट एवं राजनांदगांव जिले के नौ थाने मोहला, मानपुर, मदनवाड़ा, औंधी, चिल्हाटी, खड़गांव, सीतागांव, कोहका और अंबागढ़-चौकी शामिल हैं. इन सभी थानों में कार्यरत पुलिस बल को 35 प्रतिशत नक्सल क्षेत्र भत्ता दिया जाएगा.

इसी तरह से सामान्य नक्सल प्रभावित क्षेत्र में 13 थानों को शामिल किया गया है. इनमें बस्तर जिले के छह थाने कोतवाली जगदलपुर, बोधघाट, परपा, नगरनार, करपावांड और भानपुरी, कोंडागांव जिले के चार थाने फरसगांव, केशकाल, माकड़ी एवं कोंडागांव, कांकेर जिले के तीन थाने चारामा, कांकेर और नरहरपुर शामिल हैं. यहां पदस्थ पुलिस बल को मूल वेतन का 15 फीसदी नक्सल क्षेत्र भत्ता मिलेगा.

Tags: , , , , ,