‘मां को पिताजी ने मारा है’

Monday, September 28, 2015

A A

मासूम लड़की

कोरबा | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के कोरबा में 18 दिन पहले हुये महिला की मौत के मामले में नया मोड़ आ गया है. 9 सितंबर को बीमारी से मरी मानकर जिस महिला को दफन कर दिया गया था अब उसकी 6 वर्षीय मासूस लड़की ने खुलासा किया है कि मेरी मां को पिताजी ने मारा है.

बच्ची के द्वारा किये गये खुलासे के बाद कोरबा पुलिस ने एसडीएम से लाश का पोस्टमार्टम करवाने की अनुमति ले ली है. सोमवार को महिला का शव निकालकर उसका पोस्टमार्टम किया जायेगा.

कोरबा के उरगा में दिनेश धनुहार अपनी पत्नी तथा दो लड़कियों 6 वर्षीय सीमा तथा 3 वर्षीय अमरीका के साथ रहता था. पत्नी के रहते हुये भी दिनेश धनुहार ने मतिबाई नाम की दूसरी महिला के साथ शादी कर ली थी. जिससे पति-पत्नी के बीच आये दिन झगड़े हुआ करते थे.

9 सितंबर की रात अचानक पत्नी लक्ष्मीन बाई की मृत्यु हो गई. तभ उसके पति दिनेश धनुहार ने बताया कि उसकी मौत बीमारी से हुई है. मौत को प्राकृतिक मानकर उसे दफन कर दिया गया.

इसके बाद दोनों बच्चियां अपने नाना के घर ग्राम सिवनी चले गये. जहां पर नाना के द्वारा पूछने पर 6 वर्षीय बच्ची सीमा ने खुलासा किया कि मां की तबियत ठीक न होने बाद भी उसके पिता ने उनकी पिटाई कर दी थी जिससे उऩकी मौत हो गई थी.

उसके बाद मृतक लक्ष्मीन बाई के पिता ने पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाई. जानकारी मिलते ही पुलिस हरकत में आ गई. बताया जा रहा है कि पुलिस की ओर से कब्र की खुदाई के लिए कोरबा एसडीएम के समक्ष आवेदन प्रस्तुत किया गया था. एसडीएम कार्यालय से कब्र खोदने अनुमति प्रदान कर दी गई है.

सोमवार की सुबह पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों की उपस्थिति में खुदाई कर शव को बाहर निकालेगी. इसके साथ ही वैधानिक प्रक्रिया पूरी करते हुए शव का पोस्टमार्टम कराया जायेगा. इस दौरान मिले साक्ष्य के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

Tags: , , ,