छठ पूजा सम्पन्न

Saturday, November 9, 2013

A A

कार्तिक स्नान

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में चार दिनों तक चलने वाले छठ पर्व का समापन शनिवार सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य के साथ हुआ. इस दौरान लाखों लोगों, विशेषकर महिलाओं, ने सुबह की ठंड की परवाह किए बगैर नदियों में डुबकी लगाई और उगते सूर्य की प्रार्थना की.

छठ पर्व को देखते हुए किए गए सुरक्षा के बेहतर इंतजाम किये गये थे. इस त्योहार पर सूर्य की पूजा की जाती है और सूर्य देव को फल, घर पर बनाए गए ठेकुआ, पेड़ा, पकवान, चावल के लड्ड, कच्ची सब्जियां और मौसम की पहली फसल चढ़ाई जाती है.

सभी मीठे पकवान और फल-सब्जियां बांस की बनी टोकरी और सूप में चढ़ाए जाते हैं.

सूर्य ऊर्जा और जीवनी शक्ति के देवता माने जाते हैं, और छठ के दौरान इनकी पूजा उन्नति, बेहतरी और प्रगति के लिए की जाती है.

श्रद्धालुओं ने शुक्रवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया था.

छठ पूजा की शुरुआत बुधवार को ‘नहाय खाय’ के साथ हुई थी जिस दौरान व्रतियों ने नदियों में स्नान किया था. इसके अगले दिन गुरुवार को ‘खरना’ संपन्न हुआ, इस दिन घरों में मीठे पकवान बना कर रिश्तेदारों और मित्रों में बांटे जाते हैं.

कभी यह त्योहार बिहार तक ही सीमित था, लेकिन छत्तीसगढ़ में यहां के लोगों की बढ़ती तादात की वजह से यह यहां भी लोकप्रिय हुआ है.

Tags: , ,