देश में बिजनेस करना कठिन: केजरीवाल

Friday, January 8, 2016

A A

अरविंद केजरीवाल

कोलकाता | समाचार डेस्क: अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि देश में कारोबार करना काफी कठिन है. उन्होंने उद्योगपतियों से राष्ट्रीय राजधानी में निवेश करने का आह्वान किया. केजरीवाल ने वादा किया कि कारोबारियों के जो भी मुद्दे होंगे, उन्हें उनकी संतुष्टि को ध्यान में रखकर निपटाया जाएगा. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार जल्द ही दिल्ली में एक व्यापार सम्मेलन आयोजित करेगी.

केजरीवाल ने यहां आयोजित दो दिवसीय बंगाल वैश्विक व्यापार सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार व्यापार करने के लिए तमाम औपचारिकताओं को सरल बनाने की कोशिश कर रही है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा, “मैं शासन की जितनी गहराई में जाता हूं, उतना ही महसूस करता हूं कि देश में कारोबार करना कितना कठिन है. नानी याद आ जाती है. पता नहीं आप लोग कैसे संभालते हैं ये सब. किसी भी सरकारी विभाग में जाइए, रिश्वत दिए बगैर काम ही नहीं होता. अब तो हाल यह हो गया है कि पैसा देने के बाद भी काम नहीं होता. इसे बदलना होगा.”

केजरीवाल ने कारोबार करने में दिक्कतों की अपनी बात के पक्ष में इवेंट मैनेजमेंट कंपनियों द्वारा दिल्ली छोड़कर जाने का उल्लेख किया.

केजरीवाल ने कहा, “हमारी बेहद जटिल व्यवस्था है. बीते 10 सालों में इवेंट मैनेजमेंट इंडस्ट्री दिल्ली से बाहर जा रही है. वजह यह है कि दिल्ली में एक अकेला कार्यक्रम करने के लिए भी 27 सरकारी विभागों की अनुमति लेनी पड़ती है.”

उन्होंने कहा, “अब हमने प्रक्रिया को सरल बनाया है. अब प्रमाणपत्र के लिए हलफनामा नहीं देना पड़ता. हमने इवेंट मैनेजमेंट कंपनियों से बात कर नियम बदले हैं. अब मिनटों में, वह भी ऑनलाइन अनुमति मिलती है.”

उन्होंने कहा, “हम जल्द ही दिल्ली में व्यापार सम्मेलन करेंगे. आइए, दिल्ली में निवेश करिए. हम प्रक्रियाओं को आसान बना रहे हैं. लेकिन, हमें आपकी मदद की जरूरत है. मुझे बताएं कि दिल्ली में कारोबार करने में आपको कौन-सी मुश्किलें पेश आ रही हैं. मेरा वादा है कि जितनी देर में आप हमें अपनी समस्या बताएंगे, हम उससे कम समय में इसे हल करेंगे.”

Tags: ,