‘यूपी में बसपा को स्पष्ट बहुमत मिलेगा’

Sunday, March 20, 2016

A A

मायावती-पूर्व मुख्यमंत्री

नई दिल्ली/लखनऊ | समाचार डेस्क: मायावती ने दावा किया है कि बसपा को यूपी के आगामी विधानसभा चुनाव में स्पष्ट बहुमत मिलने जा रहा है. बसपा मुखिया मायावती ने उत्तर प्रदेश विधानसभा आमचुनाव के संबंध में आए ताजा ‘ओपिनियन सर्वे’ का उल्लेख करते हुए कहा कि पंचायत चुनाव में उत्तर प्रदेश की जनता ने बसपा को नम्बर-एक की पार्टी बनाकर उभारा है. उन्होंने कहा कि बसपा इस बार यहां विधानसभा चुनाव में जरूर स्पष्ट बहुमत मिलेगा.

मायावती ने नई दिल्ली में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी और विभिन्न राज्यों से आए वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं उन राज्यों में तैनात केन्द्रीय संयोजकों से, उनके राज्यों के पार्टी संगठन की तैयारी व सर्वसमाज में जनाधार को बढ़ाने के सम्बन्ध में प्रगति रिपोर्ट लेने के दौरान यह बात कही.

उन्होंने कहा कि वैसे उत्तर प्रदेश के अगले विधानसभा आमचुनाव में जहां अपराध-नियंत्रण व कानून-व्यवस्था के साथ-साथ जनहित व विकास के मामले में हमारी पार्टी का बेहतरीन रिकार्ड जनता को अच्छी तरह से याद है, वहीं वर्तमान सपा सरकार में हर स्तर पर उत्पन्न भ्रष्टाचार, जंगलराज व अराजकता का माहौल एवं भाजपा की जातिवादी, धार्मिक संर्कीणता व जनविरोधी राजनीति के कारण जान-माल की सुरक्षा व शान्ति-व्यवस्था का लगातार बिगड़ता माहौल लोगों को इन विरोधी पार्टियों से विमुख होने को मजबूर कर रहा है.

बसपा मुखिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश में हमारी पार्टी सर्वसमाज के हित में ‘सर्वजन हिताय व सर्वजन सुखाय’ की पहले से ज्यादा बेहतर सरकार देगी, ऐसा हमारा संकल्प व आम जनता से वादा है. बसपा मुखिया ने केन्द्र की भाजपा सरकार पर हमलावर होते हुए कहा कि केन्द्र सरकार ने लगभग पौने दो वर्ष के कार्यकाल में भ्रष्टाचार को अप्रत्यक्ष तौर पर काफी बढ़ावा दिया है.

भ्रष्टाचार के गम्भीर मामलों जैसे ललित मोदी काण्ड, मध्य प्रदेश का व्यापम खूनी महाघोटाला व अब विजय माल्या का 9,000 करोड़ रुपये का बैंक फ्रॉड केस आदि मामलों में भ्रष्टाचारियों को सीधे तौर पर सरकारी संरक्षण दिया गया. उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने अपने कृपालु धन्नासेठों व पूंजीपतियों के लिये पूरी तरह से सात खून माफ किए हुए हैं.

मायावती ने कहा कि इस प्रकार कांग्रेस के ‘प्रत्यक्ष भ्रष्टाचार’ की तरह ही भाजपा का ‘अप्रत्यक्ष भ्रष्टाचार’ आजकल विश्व स्तर पर भी काफी चर्चाओं में है. कुल मिलाकर कांग्रेस व भाजपा हर मामले में एक ही थैली के चट्टे-बट्टे साबित हो रहे हैं. बसपा मुखिया ने कहा कि जिस प्रकार से भाजपा की सरकार भ्रष्टाचारियों व कालाधन रखने वालों को संरक्षण देकर उनको बचाने का काम कर रही है, उससे संभव है कि अगले कुछ वर्षो के अन्दर भाजपा कांग्रेस के भ्रष्टाचार से भी आगे न निकल जाए.

मायावती ने देश के करोड़ों गरीबों, मजदूरों एवं निम्न व मध्यम आय वाले लोगों को सस्ती दर में मिलने वाले खाद्यान्न व रसोई गैस आदि को ‘आधार नम्बर’ से जबर्दस्ती जोड़कर उन्हें इससे वंचित करने का भी आरोप लगाया.

मायावती ने पार्टी पदाधिकारियों से कहा कि पश्चिम बंगाल, केरल, तमिलनाडु आदि राज्यों में विधानसभा के आमचुनाव हो रहे हैं. इन राज्यों में पार्टी जमीनी स्तर पर लगातार काम कर रही है, लेकिन वहां कुछ रिजल्ट पाने में थोड़ा समय लग सकता है. फिर भी जो लोग पार्टी की मानवतावादी विचारधारा से जुड़े हैं उनके व पार्टी हित को ध्यान में रखकर बसपा ने उन राज्यों में अकेले ही अपने बल पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है.

इन राज्यों के पदाधिकारियों के अनुरोध पर बसपा मुखिया ने पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभा को सम्बोधित करने का भी निर्णय लिया है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश को छोड़कर देश के विभिन्न राज्यों में स्थानीय मुद्दों को लेकर चल रहा बी.एस.पी. का जिला-स्तरीय धरना-प्रदर्शन कार्यक्रम जारी रहेगा.

Tags: , , , , , ,