बॉबी जिंदल: राष्ट्रपति उम्मीदवारी का दावा

Tuesday, May 19, 2015

A A

बॉबी जिंदल लुसियाना के गवर्नर हैं

वाशिंगटन | समाचार डेस्क: भारतीय मूल के बॉबी जिंदल अपनीकी राष्ट्रपति चुनाव के लिये रिपब्लिकन पार्टी से उम्मीदवारी के लिये अपने आप को पेश कर रहें हैं. उन्होंने इसके लिये एक वेबसाइट भी शुरु किया है. लुसियाना प्रांत के भारतीय मूल के अमरीकी गवर्नर बॉबी जिंदल ने एक समिति गठित कर तथा एक राष्ट्रीय वेबसाइट शुरू कर 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में अपनी संभावित दावेदारी की दिशा में एक कदम बढ़ा दिया है. वेबसाइट का पता ‘डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट बॉबीजिंदल डॉट कॉम’ है.

अमरीकी समाचार पत्र ‘टाइम्स- पिकायून’ के मुताबिक, हालांकि, जिंदल ने कहा है कि अभी तक वह राष्ट्रपति पद के आधिकृत उम्मीदवार नहीं हैं. वह 11 जून को लुसियाना विधानमंडल के स्थगित होने के बाद औपचारिक रूप से इस दौड़ में शामिल हो सकते हैं.

इस समिति का गठन राष्ट्रपति पद के संभावित उम्मीदवार के चुनाव अभियान के लिए राष्ट्रीय अभियान चलाने, धनराशि इकट्ठा करने, विभिन्न राज्यों का दौरा करने और मतदान प्रक्रिया के संचालन संबंधी कार्यो के लिए किया गया है.

जिंदल ने एक बयान में कहा, “अभी फिलहाल, मैं और मेरी पत्नी सुप्रिया इस बारे में सोच रहे हैं कि क्या इस बार राष्ट्रपति चुनाव लड़ा जाए या नहीं.”

“यदि मैं चुनाव लड़ता हूं तो मेरी उम्मीदवारी इस बात पर तय होगी कि अमरीकी लोग पुराने प्रचलन से बाहर निकलकर कुछ नया आजमाने के लिए तैयार हैं.”

जिंदल ने हाल के महीनों में अमरीकी सपनों को दोबारा संजोने के उद्देश्य के साथ उन स्थानों का क्रमिक दौरा किया है, जहां जल्द चुनाव होने वाले हैं. उनका कहना है कि राष्ट्रपति ओबामा के कमजोर नेतृत्व की वजह से ये सपने चकनाचूर हो गए हैं.

समाचार पत्र ‘वाशिंगटन पोस्ट’ के मुताबिक, गवर्नर के रूप में उनके अनुभव और भारतीय आप्रवासी माता-पिता से अमरीका में पैदा होने जैसी पृष्ठभूमि के बावजूद जिंदल संभावित रिपब्लिकन उम्मीदवारों के राष्ट्रीय चुनाव में कोई खास प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं.

अखबार ने कहा है, “यदि जिंदल रिपबल्किन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार होने का फैसला करते हैं, तो उनके सामने काफी मुश्किल भरी स्थिति होगी. क्योंकि रिपब्लिकन पार्टी की ओर से पहले से ही छह उम्मीदवारों की घोषणा की जा चुकी है और आगामी महीने में अन्य एक दर्जन नाम भी सामने आ सकते हैं.”

Tags: , , ,