मंत्रिमंडल में बस्तर से भेदभाव हुआ: जोगी

Wednesday, December 18, 2013

A A

अजीत जोगी

बिलासपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का कहना है कि बस्तर में भाजपा का परफारमेंस ठीक नहीं रहा, इसलिए रमन सिंह ने बस्तर को दंडित करने हुए अपने नवगठित मंत्रिमंडल में इस इलाके के ज्यादा जनप्रतिनिधियों को स्थान नहीं दिया है, जबकि सबसे अधिक समस्या इस इलाके में ही है.

उन्होंने कहा कि नक्सलवाद, गरीबी तथा आदिवासियों का शोषण चरम पर है, इसके बावजूद बस्तर से भेदभाव किया गया है. ऐसी भावना के साथ शासन नहीं चल सकता.

बिल्हा विŠधाननसभा के सेंवार में गुरू ƒघासीदास जयंती के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बिलासपुर से गुजर रहे पूर्व जोगी कुछ देर के लिए सर्किट हाउस में विŸश्राम के लिए ठहरे थे, जहां उ‹होंने पत्रकारों से बातचीत में रमन मंत्रीमंडल के संबंŠध में अपने विचार व्यक्त किए.

प्रदेश में आदिवासी वर्ग तथा अनुसूचित जाति को उचित जनप्रतिनिधित्व के सवाल पर Ÿश्री जोगी ने कहा कि यह तो हर बार का रवैया है कि आदिवासियों तथा अनुसूचित जाति वर्ग की उपेक्षा की जाती है और उनके जनप्रतिनिŠधियों को उचित जगह नहीं दी जाती है.

लोकपाल बिल पास होने के सवाल पर उ‹होंने कहा कि लोकपाल बिल पास होने का सारा Ÿश्रेय यूपीए सरकार को जाता है, इससे देश में भ्रष्टाचार पर अंकुश लग सकेगा.

लोकसभा चुनाव लडऩे के संबंŠध में Ÿश्री जोगी ने कहा कि जिसे भी पार्टी चाहेगी, वो ही लोकसभा में उम्मीदवार होंगे, कोई कयास लगाना उचित नहीं है लेकिन अगर पार्टी ने मौका दिया तो वे जरूर चुनावी मैदान में उतरेंगे और पूरी तैयारी के साथ चुनाव लड़ेंगे.

Tags: , , , , ,