गिरिराज का ‘राज’ खोलने की सजा, तबादला

Saturday, December 6, 2014

A A

आईपीएस

पटना | एजेंसी: बिहार सरकार ने मानवाधिकार आयोग के पुलिस अधीक्षक अमिताभ कुमार दास का तबादला कर दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में राज्यमंत्री बने भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह का राज खोलने वाले बिहार राज्य मानवाधिकार आयोग के पुलिस अधीक्षक अमिताभ कुमार दास का तबादला कर दिया गया है. बिहार गृह विभाग द्वारा शनिवार को जारी अधिसूचना के मुताबिक, दास को मानवाधिकार आयोग से हटाकर पुलिस अधीक्षक, नागरिक सुरक्षा आयुक्त बना दिया गया है और अब एस़ एम़ वकील अहमद को राज्य मानवाधिकार आयोग का नया पुलिस अधीक्षक बनाया गया है.

एसपी ने गिरिराज को मोदी के मंत्रिमंडल में जगह मिलने के एक दिन बाद विशेष शाखा के महानिरीक्षक ज़े एस़ गंगवार को एक रिपोर्ट भेजी थी, जिसमें कहा गया था कि गिरिराज सिंह का संबंध जातीय संगठन रणवीर सेना से है.

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि एक जून 2012 को रणवीर सेना के प्रमुख ब्रोश्वर मुखिया की हत्या के बाद गिरिराज ने संवेदना प्रकट करते हुए मीडिया को दिए बयान में ब्रोश्वर को ‘गांधीवादी’ बताया था और श्रद्धांजलि देने ब्रोश्वर के गांव भी गए थे.

एसपी की रिपोर्ट पर राज्य मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति बिलाल नजाकी ने दास को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए पूछा था कि उन्होंने किस अधिकार से विशेष शाखा के पुलिस महानिरीक्षक को रिपोर्ट सौंपी.

भाजपा के नेताओं ने भी इस रिपोर्ट का विरोध किया था. पार्टी नेताओं ने दास को ‘विवादास्पद अधिकारी’ बताते हुए उन्हें निलंबित करने की मांग की थी. गनीमत है कि महकमे ने कार्रवाई के नाम पर दास का सिर्फ तबादला ही किया.

Tags: , , , ,