बस्तर में 450 सिंचाई पंपों के लिये 2.79 करोड़

Tuesday, April 23, 2013

A A

रमन सिंह

जगदलपुर | संवाददाता: मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा है कि जनप्रतिनिधियों के सहयोग, राज्य सरकार के अधिकारियों और कर्मचारियों सहित आम जनता की मेहनत से छत्तीसगढ़ के आदिवासी बहुल इलाकों में विकास का एक नया दौर शुरू हुआ है. हाल के वर्षों में इन क्षेत्रों में शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, सिंचाई और सार्वजनिक वितरण प्रणाली में उत्साहजनक सफलता मिली है. बस्तर सहित राज्य के सभी आदिवासी बहुल क्षेत्रों का विकास प्रदेश सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है.

मुख्यमंत्री मंगलवार को दोपहर जगदलपुर में बस्तर एवं दक्षिण क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण की बैठक में अपने विचार कर रहे थे. रमन सिंह ने बैठक में जनप्रतिनिधियों के प्रस्तावों पर विचार-विमर्श के बाद प्राधिकरण क्षेत्र के गांवों में 450 किसानों के असाध्य सिंचाई पम्पों को बिजली का कनेक्शन दिलाने के लिए दो करोड़ 79 लाख रूपए की धन राशि मंजूर कर दी.

मुख्यमंत्री ने बैठक में प्राधिकरण के वित्तीय वर्ष 2005-06 से वर्ष 2011-12 तक सात वर्षों में स्वीकृत और निर्माणाधीन कार्यों की विशेष रूप से समीक्षा की. उन्होंने अधिकारियों को आज की बैठक में जनप्रतिनिधियों के स्वीकृत प्रस्तावों पर बीस दिनों के भीतर आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. श्री सिंह ने निर्माण एजेंसियों को सभी निर्माणाधीन कार्य मानसून की बरसात शुरू होने से पहले पूर्ण करवाने के भी निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि दक्षिण बस्तर यानी दंतेवाड़ा जिले के बैलाडीला में राष्ट्रीय खनिज विकास निगम, एन.एम.डी.सी. की लौह अयस्क परियोजना में उत्खनन की वजह से शंखिनी और डंकिनी नदियों में पानी का रंग लाल होने से उत्पन्न समस्या को देखते हुए इसके सर्वेक्षण के लिए पर्यावरण विभाग की ओर से एक विशेष अध्ययन दल वहां भेजा जाएगा, जो वहां पानी के प्रदूषण से प्रभावित गांवों में लोगों के स्वास्थ्य और खेतों पर हुए प्रभाव का अध्ययन कर मुआवजा इत्यादि के बारे में रिपोर्ट राज्य शासन को देगा. रिपोर्ट के आधार पर प्रभावितों को उचित सहायता दिलायी जाएगी.

बैठक में आदिम जाति और अनुसूचित जाति विकास मंत्री केदार कश्यप, जल संसाधन और उच्च शिक्षा मंत्री रामविचार नेताम, स्कूल शिक्षा और लोक निर्माण मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण मंत्री लता उसेंडी, वाणिज्य, उद्योग तथा आवास एवं पर्यावरण मंत्री राजेश मूणत, वन मंत्री विक्रम उसेंडी, संसदीय सचिव महेश गागडा, लोकसभा सांसद दिनेश कश्यप और सोहन पोटाई, विधायक संतोष बाफना, सुभाऊ कश्यप, सेवक राम नेताम, कवासी लखमा और श्रीमती कुमार बाई साहू, प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और विधायक बैदूराम कश्यप सहित प्राधिकरण क्षेत्र के अनेक जनप्रतिनिधि, राज्य शासन के अपर मुख्य सचिव वित्त डी.एस.मिश्रा, अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास विवेक ढांड तथा खाद्य विभाग के सचिव विकासशील सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी और प्राधिकरण से संबंधित जिलों के कलेक्टर एवं अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे.

इससे पहले मुख्यमंत्री ने जगदलपुर में छत्तीसगढ़ युवा सूचना क्रांति योजना के तहत मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थियों को नि:शुल्क लैपटॉप प्रदान कर शुभकामनाएं दी.

Tags: , , , , , ,