धान के साथ कोसरा की कटाई शुरु

Sunday, November 24, 2013

A A

कोसरा

जगदलपुर | संवाददाता: इन दिनों धान की कटाई के साथ-साथ कोसरा फसल की कटाई भी प्रारंभ हो गई है. इस कोसरा की धान बुआई के बाद अगस्त- सितम्बर महीने के आसपास बुआई की जाती है. वहीं कोसरे फसल की दूसरी बुआई 15 दिन पहले की गई है. जो ओस की बूंद से उगता है. जिसे ओस कोसरा कहते हैं.

ग्रामीण क्षेत्रों में इस कोसरे की कीमत काफी कम है. जबकि विदेशों में इसे डॉलर में खरीदा जाता है. यह कोसरा चावल सुगर मरीजों के लिए लाभदायक होता है. इसके चावल से खाना, पेज व लांदा बनाया जाता है. इसके साथ चापड़ा(लाल रंग की चींटी) की तीखी चटनी का सेवन बस्तरवासी के अधिकांश लोग करते हैं.

बस्तर की मुख्य फसल धान के साथ कोसरा, चीखमा, कोदो, कुटकी, रामतिल, सरसों के सहित अ.य
फसल ली जा रही है. दरभा ब्लॉक के चितापुर में इन सभी फसलों की खेती की जा रही है. ग्रामीणों में धीरे-धीरे जागरूकता आने के साथ ही इन फसलों का ग्राफ बढऩे लगा है.

Tags: , ,