रामदेव को हड़काकर बाबुल ने ली थी टिकट

Monday, June 16, 2014

A A

बाबा रामदेव

कोलकाता | संवाददाता: आसनसोल से भाजपा सांसद और गायक बाबुल सुप्रियो ने एक लेख में दावा किया है कि भाजपा की उनकी टिकट बाबा रामदेव ने दिलाई थी. बांग्ला अखबार आनंदबाजार पत्रिका में रविवार को छपे सुप्रियो के लेख में कहा गया है कि 28 फरवरी को वह एक जहाज में रामदेव के बगल में सफर कर रहे थे. सुप्रियो ने रामदेव को टिकट बंटवारे पर किसी से चर्चा करते सुना.

सुप्रियो ने दावा किया है कि उन्‍होंने रामदेव से कहा, ‘ बाबा, मुझे भी टिकट चाहिए. और अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो मैं मीडिया में बताऊंगा कि आप लोगों को कैसे टिकट दे रहे हैं.’ सुप्रियो का कहना है, ‘रामदेव इस पर चौंक गये और फिर हंसने लगे. इसके बाद बाबा रामदेव टिकट के लिये मान गए और उन्‍होंने अपने पर्सनल सेक्रेटरी को मेरा नंबर नोट करने के लिए कहा. इसके बाद 1 मार्च को राकेश नाम के एक शख्‍स ने कॉल किया, जिसने खुद को आरएसएस का प्रचारक बताया.

बाबुल सुप्रियो के अनुसार राकेश ने कहा कि बाबा ने उन्‍हें मेरे बारे में बताया है. उन्‍होंने पूछा कि आप कितना पैसा खर्च करने में सक्षम हैं? सीमा तो 70 लाख की है, लेकिन कुछ लोग इससे ज्‍यादा खर्च करते हैं.’ सुप्रियो ने अपने लेख में कहा है कि, ‘ मैंने राकेश को बताया कि पैसे खर्च नहीं कर पाऊंगा और मैं मोदी जी से प्‍यार करता हूं, इसलिए चुनाव लड़ना चाहता हूं. इसके तीन दिन बाद रामदेव की कॉल आई, जिन्‍होंने बताया कि मेरा टिकट कन्‍फर्म हो गया है. जब मैंने बताया कि मैं पैसे नहीं खर्च कर पाऊंगा तो रामदेव हंसने लगे और कहा कि इसका ध्‍यान भाजपा रख लेगी. लेकिन तुम वादा करो कि तुम पवन मुक्‍त आसन सीखोगे.’

बाबुल सुप्रियो के अनुसार 7 मार्च को बीजेपी राज्‍य अध्‍यक्ष राहुल सिन्‍हा ने बाबुल सुप्रियो को कॉल करके आसनसोल से चुनाव लड़ने के बारे में पूछा. सुप्रियो ने जब इसकी वजह जाननी चाही तो सिन्‍हा ने कहा कि वह इलाका हिंदी बेल्‍ट है और सुप्रियो हिंदी भी बोल लेते हैं. सिन्‍हा ने कहा कि उन्‍हें भरोसा है कि अगर कड़ी मेहनत की जाए तो उस सीट पर जीत मिल सकती है.

बाबुल सुप्रियो के इस लेख के बाद से बाबा रामदेव का कोई बयान नहीं आया है. अखबार के अनुसार बाबुल सुप्रियो के इस लेख का दूसरा भाग अगले रविवार को प्रकाशित होगा.

Tags: , , , , , , ,