अमरीकी पोत सीरिया रवाना

Saturday, August 24, 2013

A A

पेंटागन

वाशिंगटन। एजेंसी: अमरीकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन के निर्देश पर एक नौसैनिक जहाज सीरिया के निकट जा रहा है. इस बात की पूरी संभावना है कि अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा सीरिया पर सैन्य कार्यवाही का फैसला ले सकते हैं. इससे पहले ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने पहली बार स्वीकार किया है कि सीरिया में रासायनिक हथियारों का उपयोग हुआ है.

गौर तलब है कि सीरिया की मुख्य विपक्षी पार्टी नेशनल कॉलिशन ने सरकार पर बुधवार को रासायनिक हथियारों का प्रयोग कर करीब 1300 लोगों की हत्या करने का आरोप लगाया था. दूसरी ओर सीरिया के सरकारी टेलीविजन ने बताया है कि देश के सैनिकों ने शनिवार को राजधानी दमिश्क के उपनगर जोबार में विद्रोहियों के सुरंगों में प्रवेश किया है और वहां रासायनिक पदार्थ देखे हैं. इसमें कहा गया है कि कुछ सैनिकों का दम घूंट रहा था.

सीरिया के मुद्दे को लेकर अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने सीरियन अपोजिशन काउंसिल के नेता, संयुक्त राष्ट्र महासचिव और यूरोपीय यूनियन व अरब लीग के नेताओं से बात की है. इसके अलावा उन्होंने ब्रिटेन, फ्रांस, जार्डन, कतर, तुर्की, रूस, जर्मनी, संयुक्त अरब अमीरात, इटली और मिस्र के विदेश मंत्रियों से भी बात की है.

ज्ञात्वय रहे कि सीरियाई सरकार पर आरोप है कि उसके पास रासायनिक हथियार हैं जिनका उपयोग वह विद्रोहियों के खिलाफ करता आया है. अंतर्राष्ट्रीय कानून के अनुसार रासायनिक हथियारों का उपयोग वर्जित है.

कुछ राजनीतिक विश्लेशको के अनुसार अमरीका इससे पहले भी इराक पर रासायनिक हथियारों के बहाने हमला कर चुका है. जब अमरीका ने इराक पर कब्जा कर लिया तो वहां से कोई भी रासायनिक हथियार नही मिला था. ह़ॉ अमरीकी तेल कंपनियों को वहां के तेल के कुओं पर कब्जा जमाने का मौका जरूर मिल गया था.

फिलहाल सारी दुनिया की नजर अमरीकी गतिविधियों पर केन्द्रित है कि वह सीरिया में क्या करने जा रहा है.

Tags: , ,