अमरीका ने इराक में भेजे अतिरिक्त सैनिक

Wednesday, September 3, 2014

A A

अमरीका प्रतिबंध

वाशिंगटन | एजेंसी: इराक और सीरिया में सक्रिय सुन्नी आतंकवादी गिरोह इस्लामिक स्टेट ने एक अन्य अमरीकी पत्रकार स्टीवेन सॉटलॉफ का सिर कलम कर दिया है. इसका वीडियो जारी करते हुए अमरीका को चेतावनी दी है कि वह इराक में अपना हस्तक्षेप बंद करे.

इस बीच, अमरीका ने इराक में 350 अतिरिक्त सैनिकों को भेजा है, जिसके बाद इराक में इसके कुल सैनिकों की संख्या 1,000 हो गई है. इराक में अतिरिक्त सैनिकों को भेजने का निर्णय वहां अमरीकी कूटनीतिक प्रतिष्ठानों और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए विदेश मंत्रालय के अनुरोध पर किया गया है.

इराक में अतिरिक्त सैनिकों को भेजने की घोषणा उसी दिन आई है, जिस दिन इराक में सक्रिय इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों ने अन्य अमरीकी पत्रकार स्टीवेन सॉटलॉफ का सिर कलम करने का वीडियो जारी किया. इस्लामिक स्टेट ने इस वीडियो को ‘अमरीका के लिए दूसरा संदेश’ नाम दिया है.

वीडियो में चेहरा ढके आतंकवादी ने अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा को चेतावनी देते हुए कहा है, “जब तक तुम्हारे मिसाइल हमारे लोगों पर हमला करते रहेंगे, हमारे चाकू तुम्हारे लोगों की गर्दन काटते रहेंगे.”

वहीं, वीडियो में स्टीवेन को कहते सुना जा रहा है कि वह इराक में अमरीकी हस्तक्षेप की ‘कीमत चुका’ रहा है.

इस्लामिक स्टेट द्वारा अमरीकी पत्रकार का सिर कलम किए जाने की यह दूसरी घटना है. करीब दो सप्ताह पहले इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों ने अमरीकी फोटो पत्रकार जेम्स फोले का सिर कलम करने वाला वीडियो जारी किया था, जिसमें अमरीका को चेतावनी देते हुए कहा गया था कि यदि इराक में उसके हमले नहीं रुके तो अगली बार स्टीवेन का सिर कलम किया जाएगा.

इस्लामिक स्टेट ने अब स्टीवेन का सिर कलम करने वाले वीडियो में बंधक बनाए गए ब्रिटिश नागरिक डेविड हैन्स को जान से मारने की धमकी दी है.

स्टीवेन अगस्त 2013 में सीरिया में रिपोर्टिग के दौरान लापता हो गए थे. लेकिन उनके परिवार ने इस बात को गुप्त रखा था, क्योंकि उन्हें डर था कि यह जानकारी सार्वजनिक होने पर उन्हें नुकसान हो सकता है. परिवार के सदस्य और अमरीका की सरकारी एजेंसियां उन्हें पिछले साल से ही गुप्त तरीके से ढूढ़ने की कोशिश में लगी थीं.

पिछले सप्ताह स्टीवेन की मां शिर्ले स्टीवेन ने एक वीडियो जारी कर इस्लामिक स्टेट के नेता अबु बाकर अल-बगदादी से अपने बेटे को नहीं मारने की अपील की थी.

इस बीच, अमरीका की खुफिया एजेंसियां वीडियो की सत्यता की जांच करने की कोशिश में जुटी हैं. स्टीवेन का परिवर भी उसकी मौत की पुष्टि का इंतजार कर रहा है.

‘सीएनएन’ के मुताबिक, स्टीवेन का सिर कलम किए जाने का वीडियो ऐसे समय में सामने आया है, जबकि अमरीका के राष्ट्रपति बराक ओबामा करीब एक सप्ताह के यूरोप के दौरे पर गए हैं, जहां वह उत्तर अटलांटिक संधि संगठन, नाटो के शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे.

यह वीडियो सामने आने के बाद अमरीका में लोगों ने राष्ट्रपति ओबामा से इस्लामिक स्टेट के खिलाफ कड़ी नीति अपनाने का अनुरोध किया है. इनमें लुसियाना के गवर्नर बॉबी जिंदल भी शामिल हैं. उन्होंने एक बयान जारी कर कहा, “मुझे इस बात में कोई संदेह नहीं है कि राष्ट्रपति ओबामा इस्लामिक स्टेट द्वारा अमरीका के दो नगारिकों की हत्या से आहत हैं, लेकिन यह दुख एक कड़ी रणनीति का विकल्प नहीं हो सकता.”

प्रोटेक्ट जर्नलिस्ट कमेटी के अनुसार, स्टीवेन की हत्या के साथ ही सीरिया में जान गंवाने वाले पत्रकारों की संख्या 70 हो गई है. सीरिया में वर्ष 2011 में शुरू हुए संघर्ष के बाद वहां 80 से अधिक पत्रकार अगवा हुए हैं.

Tags: , , , , , , , , , , , , ,