छत्तीसगढ़: मंत्री पर धमकी का आरोप

Thursday, September 8, 2016

A A

छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट

बिलासपुर | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने छेड़छाड़ पीड़िता के मददगार को धमकाने के मुद्दे पर गृह विभाग, डीजीपी, एसपी कोरिया, सीबीआई को नोटिस जारी किया है. छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने इनसे जवाब मांगा है. यह नोटिस हाईकोर्ट में दायर उस याचिका के बाद जारी किया गया है जिसमें छत्तीसगढ़ के श्रम व खेल मंत्री भैय्यालाल रजवाड़े पर जुर्म दर्ज करने तथा सीबीआई जांच करने की मांग की गई है.

गौरतलब है कि कोरिया के पटना में 31 दिसंबर 2015 की रात मंत्री के एक कथित करीबी रिश्तेदार ने मां के सामने उसकी लड़की के कपड़े फाड़ दिये थे. रात ही में लड़की तथा उसकी मां ने पुलिस को मामले की शिकायत की परन्तु पुलिस ने पीड़िता की शिकायत नहीं ली. इसके बाद पीड़िता ने 11 जनवरी को कोरिया के पुलिस अधीक्षक को शिकायत कर मामले पर कार्यवाही की मांग की.

पुलिस ने 2 मार्च 2016 को आरोपी पन्ना यादव व राजकुमार समेत तीन के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया लेकिन कोई गिरफ्तारी नहीं हुई. इस बीच पीड़ित परिवार को लगातार धमकी देने का आरोप है.

4 अगस्त 2016 को राजधानी रायपुर में सामाजिक कार्यकर्ता ममता शर्मा ने इस मामले को मीडिया के सामने रखा. आरोप लगाया गया कि विधायक के प्रभाव के कारण आरोपियों पर कोई कार्यवाही नहीं हो रही है. ममता शर्मा ने आरोप लगाया कि उसी रात 8 बजे मंत्री भैय्यालाल रजवाड़े ने फोन करके उन्हें पर धमकी दी थी.

ममता शर्मा का कहना है कि उसने विधायक की धमकी को टेप कर लिया तथा राजेन्द्र नगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई. कोई कार्यवाही न होने पर पीड़ित परिवार ने अधिवक्ता सतीशचंद्र वर्मा के माध्यम से हाई कोर्ट में याचिका दायर कर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है.

इन आरोपों पर मंत्री का कहना है कि मामला मेरे विधानसभा क्षेत्र का जरूर है. मैं दोनों पक्षों को जानता हूं लेकिन मामले से मेरा कोई लेना-देना नहीं है. जो आरोप लगाये जा रहें हैं वे झूठे हैं तथा मुझे बेवजह मामले में घसीटा जा रहा है.

Tags: , , , , ,