Alabama Governor ने कहा..माफी स्वीकार कीजिए

Thursday, February 19, 2015

A A

रॉबर्ट बेंटले- गवर्नर

न्यूयॉर्क | समाचार डेस्क: अमरीका में अलवामा पुलिस द्वारा भारतीय बुजुर्ग सुरेशभाई पटेल पर ‘पुलिसिया ज्यादातियों’ के लिये वहां के गवर्नर रॉबर्ट बेंटले ने माफी मांगी है. इसके अलावा उन्होंने आश्वासन दिया है कि उनके साथ न्याय होगा. गौरतलब है कि इस ‘पुलिसिया ज्यादातियों’ के बाद सुरेशभाई पटेल लकवाग्रस्त से हो गये हैं. जिसको लेकर भारतीयों में रोष है तथा ताजा राजनीतिक हालात को देखते हुए अमरीका, भारत के साथ अपने संबंधों को किसी हालत में बिगाड़ना नहीं चाहता है. इसी कारण से अलवामा में पुलिस द्वारा एक भारतीय व्यक्ति पर किए गए अत्यधिक बल प्रयोग पर अलवामा के गवर्नर रॉबर्ट बेंटले ने एक सार्वजनिक माफी जारी की है. हमले में भारतीय व्यक्ति आंशिक रूप से लकवाग्रस्त हो गया. अटलांटा में भारतीय महावाणिज्य दूत अजित कुमार को एक पत्र में रिपब्लिकन गवर्नर ने लिखा, “राज्य में काम करने वाले लोगों, सुरेश भाई पटेल, भारतीयों और आपकी सरकार के लिए दुखद घटना पर कृपया हमारी माफी स्वीकार कीजिए.”

यह पत्र बेंटले के दफ्तर से मंगलवार को सार्वजनिक किया गया.

सुरेश भाई पर पुलिस द्वारा अत्यधिक बल प्रयोग का कड़ा विरोध जताया गया था. बेंटले ने इस मामले पर मंगलवार को गहरा दुख भी जताया.

एक पड़ोसी ने शिकायत की थी कि एक काले रंग का व्यक्ति उसके घर के आसपास आवारागर्दी कर रहा है, जिस पर कार्रवाई करते हुए अधिकारी एरिक पार्कर ने अत्यधिक बल प्रयोग करते हुए सुरेश भाई को जमीन पर गिरा दिया. सुरेश भाई अंग्रेजी नहीं बोल पाते थे, इसलिए उनके प्रश्नों का जवाब नहीं दे पाए. इस कार्रवाई में वह आंशिक रूप से लकवाग्रस्त हो गए हैं.

बेंटले ने अजित कुमार को लिखे पत्र में कहा, “मुझे सुरेशभाई पटेल पर मेडिसन पुलिस विभाग द्वारा अत्यधिक बल प्रयोग और उन्हें चोट पहुंचने की दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर अफसोस है. हमें इस बात की उम्मीद है कि पटेल की हालत में सुधार होगा और वह फिर अपने पैरों पर खड़े हो पाएंगे.”

बेंटले ने कहा, “उन्होंने राज्य की कानून प्रवर्तक एजेंसी के निदेशक को मामले की जांच करने के लिए कहा है.”

उन्होंने कहा, “मैं देखूंगा, न्याय हुआ या नहीं.”

अजित कुमार ने 14 फरवरी को हंट्सविले अस्पताल में पटेल से मुलाकात की थी और उनका हालचाल पूछा था.

16 फरवरी को भारतीय अधिारियों ने इस मुद्दे पर गंभीर चिंता व्यक्त की थी. 57 वर्षीय सुरेशभाई पटेल अपने बेटे और बहू के पास उनके 17 महीने के बच्चे की देखभाल में मदद करने आए थे.

वह अपने बेटे से मिलने के लिए मेडिसन जा रहे थे. उन पर हुए बल प्रयोग का पूरा प्रकरण पुलिस के वाहन पर लगे एक वीडियो कैमरे में रिकॉर्ड हो गया.

बेंटले ने इस घटना की जिम्मेदारी ली है और मामले पर खेद जताते हुए जांच का आदेश दिया है.

मेडिसन के अधिकारियों ने एरिक पार्कर को बर्खास्त कर दिया है और उन पर उत्पीड़न का मामला दायर करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया है.

Tags: , ,