शहीदों के परिवार की सोचिये- अक्षय

Friday, October 7, 2016

A A

अक्षय कुमार

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: अक्षय कुमार ने पाक कलाकारों को बैन किये जाने की वकालत करने वाली को जमकर लताड़ा है. अक्षय कुमार का कहना है कि यह बहस बाद में भी हो सकती है. अभी समय है उरी हमलें में घायल शहीदों के परिवार के भविष्य के बारें में सोचने का. अक्षय ने फेसबुक के माध्यम से कहा है कि अभी शहीदों के परिवार वाले भी पाक कलाकारों को बैन करने के बारें में नहीं अपने भविष्य के बारे में ही सोच रहें हैं.

इस बारे में 49 वर्षीय अक्षय ने फेसबुक पर एक वीडियो डाला है जिसमें उन्होंने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकी ठिकानों पर भारतीय सेना के लक्षित हमलों पर उठाये जा रहे सवालों की भी आलोचना की.

अक्षय ने वीडियो में कहा, ‘‘मैं आज एक सेलिब्रिटी के रूप में आपसे नही बोल रहा हूं. मैं एक सैनिक के बेटे के रूप में आपसे बात कर रहा हूं. पिछले कुछ दिन से मैं देख रहा हूं और पढ़ रहा हूं कि लोग बहस कर रहे हैं. कुछ लोग सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग रहे हैं, कुछ कलाकारों पर पाबंदी की मांग कर रहे हैं, वहीं कुछ लोगों को डर है कि जंग हो सकती है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘अरे शर्म करो. ये बहस बाद में हो सकती है. पहले तो यह सोचना चाहिए कि लोग सीमा पर अपनी जान दे चुके हैं. हमले में 19 जवान शहीद हो गये और बारामूला में 24 साल का नितिन यादव शहीद हो गया.’’

अक्षय ने कहा कि इस समय पाकिस्तानी कलाकारों पर बैन के बारे में बात करने के बजाय उन परिवारों के बारे में सोचना चाहिये जिन्होंने सीमा पर अपनों को खो दिया और जिन्हें इन बहस से कोई लेनादेना नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘‘क्या उनके परिवारों को या हजारों जवानों के परिवारों को इस बात की चिंता है कि कोई फिल्म रिलीज होगी या नहीं? किसी कलाकार पर पाबंदी लगाई जायेगी या नहीं? नहीं. उन्हें अपने भविष्य की चिंता है.’’

अक्षय ने कहा, ‘‘हमारी चिंता होनी चाहिये कि हम उनके वर्तमान को और भविष्य को बेहतर बनायें. मैं हूं, क्योंकि वे हैं. आप हैं, क्योंकि वे हैं. और अगर वे वहां नहीं होते तो भारत नहीं होता. जय हिंद.’’ अक्षय कुमार के इस वीडियो को 4.3 मिलियन बार देखा गया है तथा 1,46,000 ने शेयर किया है.

Tags: , , , , , , , , ,