जोगी ने करवाया नक्सली हमला

Friday, May 31, 2013

A A

अजीत जोगी

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के नेताओं पर नक्सली हमले में जोगी का हाथ है. यह आरोप मध्यप्रदेश भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर ने लगाया है. तोमर के इस आरोप के बाद जोगी ने इस मामले में तोमर पर मुकदमा करने के लिये कानूनी नोटिस भी भेज दिया है.

इसके अलावा जोगी ने छत्तीसगढ़ सरकार को चुनौती दी है कि वह नक्सली प्रवक्ता गुड्सा उसेंडी की पत्नी मालती के साथ के अपने रिश्ते के बारे में खुलासा करे, जिसकी जमानत याचिका पर सरकार ने कोई विरोध नहीं करने का निर्णय लिया है.

25 मई को कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर नक्सली हमला और 28 लोगों की मौत के बाद से ही राज्य में राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप जारी है. मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया ने कहा था कि कांग्रेस की परिवर्तन रैली पर हमले के लिए नक्सलियों को रमन सरकार की पूरी छूट थी. इसके चलते ही कांग्रेस के नेताओं को गिन-गिन कर, वाहनों से निकाल-निकालकर गोलियां मारी गईं. भूरिया ने आरोप लगाया कि जिस-जिस को गोली मारी जा थी, उसकी हर खबर सीएम निवास जा रही थी. वहां से रमन सिंह भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह को फोन कर बता रहे थे कि नंदकुमार पटेल को उड़ा दिया, उसके बेटे को उड़ा दिया.

इसके बाद पलटवार करने की बारी मध्यप्रदेश भाजपा के अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर की थी. उन्होंने आरोप लगाया कि जोगी जिस तरह से रो रहे थे उससे साफ है कि उनका हमले की साजिश में हाथ था. तोमर ने कहा कि जोगी के हाथ होने का खुलासा होने के बाद ही कांग्रेसी नेताओं जिनमें कांतिलाल भूरिया भी शामिल हैं,ने मुख्यमंत्री रमन सिंह और उनकी सरकार पर आरोप लगाने शुरू किए. रमन सिंह की ओर से बुलाई गई सर्वदलीय बैठक का बहिष्कार करने को लेकर भी तोमर ने नाराजगी जताई.

इधर तोमर के आरोप के बाद इस बयानबाजी से उखड़े अजीत जोगी ने आनन-फानन में अपने वकील से तोमर को कानूनी नोटिस भिजवा दिया. इस मामले को लेकर अजीत जोगी ने बताया कि उन्होंने तोमर के खिलाफ आपराधिक मानहानि का नोटिस अपने वकील से भिजवाया है. जोगी ने यह भी कहा कि इस प्रकार के अनर्गल आरोप लगाने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे.

Tags: , , , , ,