छत्तीसगढ़ के लिये 30 साल जियेंगे जोगी

Tuesday, February 16, 2016

A A

अजीत जोगी-पूर्व मुख्यमंत्री

रायपुर | समाचार डेस्क: अजीत जोगी ने खरोरा में आयोजित सर्वधर्म सम्मेलन में विरोधियों को फिर से ललकारा है. छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने विरोधियों को चेतावनी देने के अंदाज में कहा, “जो लोग मुझे बुजुर्ग और बेकार समझते हैं, वे समझ लें कि छत्तीसगढ़ के हक की लड़ाई लड़ने के लिए मैं अभी 30 साल और जिंदा रहूंगा.” जोगी ने कहा, “नौजवान के जोश, सियान के होश और स्वामी-जायसवाल के कोष की त्रिवेणी बनेगी. इस त्रिवेणी को बनाने के लिए ही अजीत जोगी आपके बीच आया है.”

भिलाई में एक दिन पहले जोगी ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल का नाम लिए बगैर उन्हें ललकारा था. उन्होंने कहा था कि दुर्ग जिले के एक कोने से मुझे चुनौती दी जा रही है. मैं उसकी चुनौती को स्वीकार करता हूं. इस चुनौती का जवाब मैं नहीं, सतनाम देगा. मेरे साथ सतनाम समाज है.

खरोरा के सम्मेलन में छत्तीसगढ़ी में दिए अपने भाषण में जोगी ने कहा, “छत्तीसगढ़िया के लुटइया मन के छाती पर मूंग दरै बर अजीत जोगी 30 साल अउ जीही.”

उन्होंने कहा कि वह छत्तीसगढ़िया लोगों की लड़ाई लड़ते रहे हैं और लड़ते रहेंगे. किसी पार्टी का नाम लिए बिना उन्होंने कहा, “मतदान के समय मटन उसका खाओ, लेकिन बटन हमारे लिए दबाओ. इसलिए कि छत्तीसगढ़िया समाज की सांप्रदायिक सद्भावना कभी बिगड़ने न पाए.”

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, “छत्तीसगढ़ की आधी जनता या तो बाबा गुरु घासी दास या सदगुरु कबीर दास के चिंतन से प्रभावित है. इसलिए हमको हमारा धर्म सिखाने की जरूरत नहीं है. पूरा छत्तीसगढ़ एक परिवार है. हमारे यहां गांवों में लोग एक दूसरे को काका, चाचा, भाई बोलते हैं. मुझे भी लोग इसी तरह के नाम से बुलाते हैं.”

जोगी के इस कार्यक्रम में पहली बार कांग्रेस के झंडे नदारद थे और मंच पर लगे बैनर में छत्तीसगढ़ विकास मंच और उसका एक नया मोनो लगा हुआ था.

Tags: , , , ,