जोगी रखेंगे छत्तीसगढ़ में बदलाव की नींव

Thursday, June 2, 2016

A A

अमित जोगी

रायपुर | समाचार डेस्क: पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी 6 जून को छत्तीसगढ़ में बदलाव की नींव रखेंगे. इसकी घोषणा उनके बेटे तथा मरवाही के विधायक अमित जोगी ने गुरुवार को राजधानी रायपुर में की. अब यह तय हो गया है कि अजीत जोगी नई पार्टी बना ‘हाथ का साथ’ छोड़ने वाले हैं.

उनके बेटे अमित जोगी ने छत्तीसगढ़ कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल को ‘गुड नाइट’ कह दिया है. हालांकि ‘गुड नाइट’ तथा ‘गुडबाय’ में फर्क होता है. फिर भी छत्तीसगढ़ के राजनीतिक हल्कों में माना जा रहा है कि ‘जोगी परिवार’ कांग्रेस से नाता तोड़कर अपने समर्थकों सहित नई राजनीतिक पार्टी बनाने जा रहें हैं.

अमित जोगी ने दावा किया कि जोगी परिवार के पास चार संपत्तियां हैं जिनके बल पर छत्तीसगढ़ में बदलाव की नींव रखी जानी है. उन्होंने कहा, “छत्तीसगढ़ में केवल हमारे पास चार ऐसी शक्तियां हैं जिसके बल पर हम छत्तीसगढ़ में बदलाव की नींव रखने जा रहे हैं समर्थन यानि जनाधार, संगठन, संघर्ष और समर्पण. हमारे विरोधी भी जानते हैं कि हमारे संघर्ष के सामने टिक पाना कितना कठिन है. हम जोगी हैं, आप हमसे सब कुछ छीन सकते हैं लेकिन हमारी इन चार संपत्तियों को हमसे कभी नहीं छीन सकते. इसे हमने वर्षों के प्यार और विश्वास से कमाया है.”

नई पार्टी बनाने के बारें में अमित जोगी ने कहा कि, “प्रदेश भर के लाखों समर्थक और शुभचिंतक चाहते हैं कि अजीत जोगी जी पार्टी बनाएं. 6 जून को कोटमी में साथियों एवं वरिष्ठजनों से चर्चा कर फैसला इसका लिया जाएगा. और उसके बाद कोटमी में रखी जायेगी छत्तीसगढ़ में बदलाव की नींव.”

मरवाही के विधायक तथा कांग्रेस से निष्कासित अजीत जोगी के बेटे अमित जोगी ने नई पार्टी के उद्द्श्यों के बारें में बताया, “नई पार्टी बनाकर हमे कोई किंगमेकर नहीं बनना है बल्कि छत्तीसगढ़ की जनता को किंग बनाना है. रमन राज से छत्तीसगढ़ की जनता को आज़ादी दिलाना है. किसानों-मजदूरों को गरीबी से, युवाओं को बेकारी से, महिलाओं को अत्याचार से और व्यापारियों को मंदी से आज़ादी दिलाना है.”

जाहिर है कि अजीत जोगी के एजेंडे में मजदूर-किसान, युवा, महिलायें तथा व्यापारी वर्ग हैं जिन्हें उनकी वर्तमान दुश्वारियों से उऩकी पार्टी निज़ात दिलायेगी.

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल के बयान पर उन्होंने जवाब दिया कि, “जहां तक भूपेश बघेल के ‘बी’ टीम वाले ब्यान की बात है, मैँ केवल इतना कहूंगा कि वो कमरे में बैठकर ‘ए’ ‘बी’ ‘सी’ खेलते रहें. उनकी सोच उनकों मुबारक. हमारा मिशन ‘जे’ फॉर जनता है इसलिए हम जनता के हित में सरकार के विरुद्ध गांव-गांव में आवाज़ उठा रहे हैं.”

हालांकि अभी तक यह तय नहीं हो पाया है कि नई पार्टी का नाम क्या होगा या यह केवल एक नया मंच होगा जहां से जोगी परिवार कांग्रेस के अपने विरोधियों पर तीर चलायेंगे. हां इतना जरूर तय है कि छत्तीसगढ़ में 6 जून को एक नई तीसरी ताकत का उदय होने जा रहा है.

Tags: , , , , , , ,