‘प्रतिभासंपन्न’ 60 वर्षीय कमल हासन

Saturday, November 8, 2014

A A

कमल हासन-अभिनेता

चेन्नई | मनोरंजन डेस्क: 60 वर्षीय कमल हासन अभिनय के सभी कलाओं में माहिर हैं. फिल्म ‘सदमा’ में उनके द्वारा किये गये नृत्य को दर्शक आज भई याद करते हैं. कमल हासन अभिनय के अलावा नृत्य, निर्देशन, गायन, पटकथा लेखन जैसी कलाओं में पारंगत हैं. कमल हासन को सर्वगुण संपन्न अभिनेता माना जाता है. जब वह नृत्य करते हैं तो साफ झलकता है कि उन्होंने नृत्य सीखा है इसी तरह से पूरी कुशलता से वे फिल्म का निर्देशन भी करते हैं. हाल ही में उन्होंने स्वच्छता अभियान से जुड़कर अपने नाम के साथ एक और कला को जोड़ लिया है. कमल हासन ने दक्षिण के फिल्मों से आकर बालीवुड में जो प्रसिद्धि पाई, उससे पहले शायद ही किसी और ने इतना नाम कमाया हो. हां, यह जरूर है कि दक्षिण से आई कई अभिनेत्रियों ने बालीवुड में लंबे समय तक राज किया है. कमल हासन को बालीवुड में ‘प्रतिभासंपन्न’ कलाकार के रूप में जाना जाता है.

प्रतिष्ठित फिल्म निर्माता, के. विश्वनाथन ने कहा कि जिस तरह से कमल हासन सिनेमा को समझते हैं उस तरह से कोई नहीं समझ सकता.

विश्वनाथन ने कहा, “मैंने आज तक ऐसा अच्छा कलाकार नहीं देखा जो सिनेमा को कमल जितना समझ सके. ऐसा इसलिए क्योंकि और कलाकार अभिनय पर ध्यान देते हैं, जबिक कमल कुछ नया सीखने के अवसर की तलाश में रहते हैं. वह एक बेहतरीन नर्तक हैं पर जब हम ‘सागर संगमम’ फिल्म बना रहे थे तो उन्होंने जोर डालते हुए कहा था इस विशेष भूमिका के लिए नृत्य सीखेंगे.”

हासन ने तेलुगू फिल्म में एक प्रतिभाशाली नर्तक की भूमिका निभाई थी जो बाद में शराबी बन जाता है. इस फिल्म ने दो राष्ट्रीय पुरस्कार जीते थे.

पिछले साल आई तमिल जासूसी थ्रिलर ‘विश्वरूपम’ में कमल ने ‘उणनै कानधु नान’ गाने पर कथक नृत्य किया था जो दर्शकों को हमेशा याद रहेगा, इस गाने का निर्देशन बिरजू महाराज ने किया था.

गाने को राष्ट्रीय पुरस्कार मिलने के बाद बिरजू महाराज ने कहा, “वह एक प्रतिभाशाली नर्तक है बावजूद इसके उन्होंने इस गाने के लिए कड़ा अभ्यास किया था. उन्होंने नृत्य सीखने के लिए घंटों अभ्यास किया और इसके लिए वह सराहना के हकदार हैं. सबसे खास बात तो यह है कि वह अकेले ऐसे पुरुष हैं जिनका मैंने निर्देशन किया है.”

कमल के साथ 20 से भी ज्यादा फिल्मों में काम करने वाले कहानी और पटकथा लेखक क्रेजी मोहन ने उन्हें ‘प्रतिभासंपन्न’ शब्द से नवाजा है. उन्होंने कहा, “कम ही ऐसे अभिनेता हैं जो अच्छे पटकथा लेखक हैं. कमल उनमें से एक हैं. मुझे लगता है कि उन्हें नियमित रूप से लिखना चाहिए. तब हमें उनसे कुछ अच्छी कहानियां मिल सकती हैं. वह कविताएं भी लिखते हैं.”

कमल हासन कभी भी लोगों को विस्मित करना नहीं छोड़ेंगे. लोगों की चाह है कि वह ऐसे ही कई वर्षो तक सिनेमा में काम करते रहें.

Tags: , , , , , ,