जीतू को स्वर्ण, श्वेता को कांस्य

Saturday, September 20, 2014

A A

एशियाई खेल

इंचियोन | एजेंसी: निशानेबाज जीतू राय ने 17वें एशियाई खेलों में देश के लिए पहला स्वर्ण पदक जीता. जीतू के अलावा महिला निशानेबाज श्वेता चौधरी ने भी कांस्य पदक हासिल किया. महिला वर्ग में हालांकि भारत की हिना सिद्धू और मलायका गोयल ने निराश किया. वहीं, पुरुष वर्ग में ओमप्रकाश और ओमकार सिंह भी फाइनल की दौड़ में नहीं पहुंच सके. प्रकाश 10वें जबकि ओमकार 16वें स्थान पर रहे.

रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाइ कर चुके जीतू ओज्नियोन इंटरनेशनल शूटिंग रेंज में पुरुषों के 50 मीटर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में 186. 2 अंक के साथ पहले स्थान पर रहे. वियतनाम के होआंग फुओंग ने रजत और चीन के वांग झिवी ने कांस्य पदक हासिल किया.

विश्व चैम्पियनशिप में रजत और राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पर निशाने लागाने वाले जीतू ने क्वालीफाइंग दौर में 559 अंक प्राप्त किए और सातवें स्थान पर रहे.

जीतू के लिए हालांकि फाइनल में काफी उतरा-चढ़ाव से गुजरना पड़ा. फाइनल दौर में सातवें स्थान से शुरुआत करने वाले जीतू पहले चौथे स्थान पर पहुंचे और फिर लुढ़ककर छठे स्थान पर जा गिरे. इसके बाद जीतू ने एक बार फिर बेहतरीन वापसी करते हुए स्वर्ण हासिल कर लिया.

फाइनल में राय ने केवल 0.2 अंकों से होआंग पर मामूली बढ़त बनाई. फाइनल शॉट में होआंग ने हालांकि खराब निशाना लगाया और केवल 5.8 अंक अर्जित कर सके जबकि जीतू ने 8.4 अंक हासिल किए.

टीम स्पर्धा में राय, ओमप्रकाश और ओंकार चौथे स्थान पर रहे और कांस्य से चूक गए. भारतीय पुरुष टीम ने 1,692 अंक अर्जित किए.

पुरुष टीम स्पर्धा का स्वर्ण चीन ने जीता जबकि रजत पदक दक्षिण कोरिया के नाम रहा.

दूसरी ओर, दोहा एशियाई खेल (2006) में रजत पदक जीतने वाली श्वेता ने फाइनल में 176.4 अक अर्जित किए. वहीं रजत पदक जीतने वाली दक्षिण कोरिया की जुंग जीहाए ने 201.3 जबकि स्वर्ण जीतने वाली चीन की झांग मेंग्यूआन ने 202.2 अंक हासिल किए. जुंग ने स्पेन के ग्रेनाडा में इसी महीने की शुरुआत में विश्व चैम्पियनशीप जीता था.

विश्व की 46वीं नंबर की श्वेता क्वालीफाइंग दौर में 383 अंकों के साथ चौथे स्थान पर रहीं.

वहीं, टीम स्पर्धा में श्वेता, हीना और मलाइका 1134 अंको के साथ पांचवें स्थान पर रहीं.

टीम स्पर्धा में चीनी महिलाओं ने 10 मीटर एयर पिस्टल में पहला स्थान हासिल करते हुए 17वें एशियाई खेलों का पहला स्वर्ण पदक जीता. गुओ वेंजुन, झांग मेंग्यूआन और झोउ किनग्यूआन ने चीन के लिए यह कामयाबी हासिल की.

गौरतलब है कि 2002 के बाद यह लगातार चौथा मौका है जब चीन ने एशियाई खेलों का पहला स्वर्ण पदक अपने नाम किया.

ओलंपिक चैम्पियन (2008 एवं 2012) गुओ, झांग और झोउ ने 1,146 अंक अर्जित किए.

टीम स्पर्धा में चीनी ताइपे ने पांच अंक से पीछे रहते हुए दूसरा स्थान जबकि मंगोलिया ने 1,140 अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया.

Tags: , , , , , ,